थन्नामंडी मुठभेड़ में दो आतकी मारे गए

जम्मू ।जिला राजौरी के सीमांत इलाके थन्नामंडी में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादियों को मार गिराया गया है। अभी भी सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। भारत पाक सीमा से सटे थन्नामंडी इलाके के जंगलों में अभी भी एक से दो आतंकवादियों के मौजूद होने की आशंका है। सुरक्षाकर्मी गोलीबारी से बचते हुए आतंकवादियों की घेराबंदी में जुटे हुए हैं। ताकि उनके साथियों का भी पता लगाया जा सके। डीआईजी राजौरी पुंछ रेंज विवेक गुप्ता खुद इस ऑपरेशन की अगुवाई कर रहे थे। मारे गए आतंकवादी किस संगठन से संबंधित हैं। वे स्थानीय हैं या फिर विदेशी अभी तक इस संबंध में कोई भी अधिकारिक जानकारी नहीं दी गई हैं। हालांकि आइजीपी जम्मू की तरफ से दो आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि की गई है। पुलिस व सेना अभियान में जुटे हुए हैं। सीमांत इलाके थन्नामंडी में छिपे इन आतंकवादियों की तलाश में जब सुरक्षबलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ था। उसी दौरान अपने आप को घिरता हुआ देख इन आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी थी। जानकारी के अनुसार गत रात पुलिस को थन्नामंडी सीमांत इलाके में कुछ संदिग्ध बंदूकधारियों के देखे जाने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही पुलिस व सेना के जवान सीमांत इलाके में पहुंच गए और भारत पाक सीमा से सटे जंगलों में आतंकवादियों की तलाश शुरू कर दी। तभी जंगल में पेड़ों की होट में छिपे आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने भी तुरंत अपनी पोजीशन संभाली और आतंकवादियों की गोलीबारी का जवाब देना शुरू कर दिया। दोपहर तक दो आतंकियों को मार दिया गया। उनके कब्जे से काफी मात्रा में हथियार तथा गोला बारूद बरामद किया गया है। दोनों के शवों को कब्जे में लिया गया है। पूरे इलाके में अतिरिक्त टीमों को लगाकर इलाके को खंगाला जा रहा है। ताकि अगर उनके साथ आतंकी हो तो उन्हें भी तलाश किया जा सके। फिलहाल यही बात सामने आ रही है कि आतंकी घुसपैठ करके इस तरफ दाखिल हुए होंगे। लेकिन साफ तौर पर अभी एजेंसियों की तरफ से कुछ नहीं कहा जा रहा है। सुरक्षा एजेंसियों ने रक्षा मंत्रालय को इस संबंध में पहले ही सूचित कर दिया था कि गुलाम कश्मीर में 140 से अधिक आतंकी घुसपैठ की फिराक में हैं। दरअसल आतंकवादी संगठन 15 अगस्त पर जम्मू व कश्मीर में आतंकी हमले की फिराक में हैं। आतंकी मंसूबों को नाकामयाब बनाने केे लिए सुरक्षाकर्मी दिन रात चौकसी बनाए हुए हैं।

रिपोर्ट एकता चौहान

सम्बंधित खबर