सुदामा और श्री कृष्ण की घनिष्ठ मित्रता विश्व के लिए मिसाल: श्री गिरि जी महाराज

 

चंडीगढ़। स्टेट समाचार। सन्नी कुमार। 

रविंद्रा एनक्लेव बलटाना में आयोजित भागवत कथा के दौरान श्री गिरि जी महाराज ने प्रवचन के दौरान कहा कि सुदामा और श्री कृष्ण की मित्रता घनिष्ठ थी। यह विश्व भर में मिसाल बन गई है। जब सुुुुदामा अपनी पत्नी के कहने पर श्री कृष्ण के महल पर पहुंचते हैं तो द्वारपाल उसे महल में महल में प्रवेश नहीं करने देते। उसके बार-बार आग्रह करने पर द्वारपाल श्री कृष्ण के पास जाकर सुुुुदामा का जिक्र करते हैं। श्री कृष्ण नंगे पांव भागते हुए सुदामा सेेेे मिलते हैं। भगवान श्री कृष्ण उसे अपनेे सिहासन पर बिठातेे हैं और उसके चरण धोते हैं। इस मार्मिक दृश्य को मंचन के द्वारा भी दर्शाया गया। कार्यक्रम के दौरान चैतन्य गौड़ीय मठ के संस्थापक त्रिदंडी स्वामी सज्जन महाराज जी, प्रदीप शुक्ला, प्रकाश पांडे, हरबंस धवन, भावना पांडे, कुलदीप शुक्ला, सीमा ठाकुर, प्रीति पटियाल, प्रिया ठाकुर, मधु सचदेवा, उमेश माताजी, हेमंत शर्मा

सहित संख्या में लोग उपस्थित थे।

सम्बंधित खबर